शाहजहाँ और मुमताज का ये घिनौना सच जानकर आपके होश उड़ जायेंगे देखे विडियो?

0
27586

आज हम आपको एक ऐसे इतिहास के बारे में जानकारी देने जा रहे है जिसकी सच्चाई शायद ही कोई जानता हो | वैसे आपने ताजमहल के बारे में तो सुना ही होगा लेकिन क्या आपने कभी इसके पीछे छिपी हुई सच्चाई के बारे में जानने कि कोशिश कि ? नहीं न लेकिन आज हम आपको मुमताज और शाहजंहा के घिनौने काम काम कके बारे में बताएँगे | आपको बता दे कि मुमताज महल मुग़ल महारानी और मुग़ल शासक शाहजंहा की पत्नी थी और ये सभी जानते है कि मुमताज के ही यद् में उनके पति शाहजंहा ने ताजमहल बनवाया था |

शाहजंहा और मुमताज को चौदह बच्चे थे जिनमे औरंगजेब, प्रिंस दारा शिकोना भी शामिल है इसके साथ ही इन चौदह बच्चो में उनकी बेटी महारानी जहानारा बेगम भी शामिल है | सभी जानते है कि शाहजंहा को मुमताज से कितना प्रेम था और बाकि पत्निओं पर कितना और शाहजंहा मुमताज से इतना प्यार करने लगे थे कि उन्हें बेइंतहा मोहब्बत करने लगे थे और मुमताज की सुन्दरता को उनके जीवन भर में कई कवियों, लेखकों अपनी कविताओं में निखारा है |

शाहजंहा अपने मुग़ल साम्राज्य कि यात्रा मुमताज के साथ ही किया करते थे मुमताज को हाथियों कि लड़ाई देखना बहुत पसंद था और साथ में उन्हें साधारण महिलाओं से बाते करना उअर घूमना बेहद पसंद था और आपको बता दे कि शाहजंहा को मुमताज पर इतना भरोसा हो गया था कि उन्होंने मुमताज को शाही सील, मुहर उजाह के अधिकार भी उन्हें दे दिए थे |

अब आपको बताते है शाहजंहा और मुमताज के इतिहास बारे में शाहजंहा के बचपन का नाम कुर्रम था और वह जब भी जंग जीतता था तो हारे हुए दुसरे राज्यों के महिलाओं को उठा लाता था और उनमे से जो भी उसे पसंद आती थी उसे रखैल बना के रखता था और आपको जानकर ये हैरानी होगी कि शाहजंहा के 6 पत्नियां थी और 8000 रखैले थी और जिनमे से मुमताज शाहजंहा कि चौथी पत्नी थी |

और मुमताज का असली नाम अरुज्मन बानो बेगम था और जब मुमताज का शाहजंहा के साथ निकाह हुआ उसके पहले से ही मुमताज शादी शुदा थी और मुमताज के पहले पति का नाम शेर अफगान खान था और वह शाहजंहा का सूबेदार था और शाहजंहा ने उससे हरण करके मुताज से निकाह किया था और उसके पहले पति कि हत्या करवा दिया था आपको बता दे कि शेर अफजल को एक बच्चा भी था |

शाहजंहा से निकाह के बाद मुमताज को कुल 14 बच्चे हुए थे और मुमताज कि मृत्यु भी  उसके चौद्व्हे बच्चे के समय ही हुई थी और आपको बता दे कि जब मुमताज कि म्रत्यु हुई उसके बाद शाहजंहा ने मुमताज के बहन फरीदा से निकाह कर लिया | और मुमताज से से पैदा हुई उसकी पहली संतान एक लड़की थी जिसका नाम जहाअरा था जो कि अपने बिलकुल अपने माँ जैसी दिखती थी |

शाहजंहा के मन में इतना हवस भरा था कि उसने अपने बेटी को ही रखैल बना लिया था और उसकी कभी शादी ही नहीं किया और उसने अपने मंत्री मंडल में शाबित भी कर दिया कि जब कोई माली अपने बगीचे में पेड़ लगाता है तो उसका उसे फल खाने का पूरा हक़ है और उसकी इस बात ने मौलिवियों ने भी हाँ कर दी आगे कि बात आपको इस विडियो में देखने पर पता चलेगा |

देखें विडियो:-