OMG मोदी सरकार का बड़ा फैसला अब नही बिकेंगे भारत में चीनी उत्पाद पढ़िए पूरी खबर ?

0
226

वैसे आपको तो पता ही है कि किस तरह से चीनी सेना हमारे देश में कब्ज़ा करने कि कोशिश कर रही है और इसी के चलते रोजाना भारत और चीन के बीच तनाव का माहौल पैदा हो रहा है जिसके कारण सभी भारतीयों से निवेदन भी किया जा रहा है कि वह चीनी उत्पाद बिलकुल भी न ख़रीदे जिससे उनकी औकात क्या है ये उन्हें पता चले और इसी के चलते प्रधानमंत्री मोदीजी ने भी बड़ा फैसला लिया है |

आपको बता दे कि भारत में चीन से आ रहे फलों और फ्लावर के बीजों में लगातार मिल रहे कीड़ो कि वजह से भारत ने चीन से आ रहे इन उत्पादों पर रोक लगाने का पूरा फैसला कर लिया है और इसी वजह से अब भारत में इन चीजो के उत्पाद के कंटेनर अब भारत में नही उतारे जायेंगे | और आपको यह भी बता दे कि भारत में चीन से आने वाले उत्पादों में 90 फीसदी में सिर्फ सेब और नाशपाती ही है जिसमे लगातार चीन से आ रहे इन उत्पादों में कीड़े पाए गए है |

सरकार के अधिकारयों ने यहाँ तक ये भी बताया कि चीन से आ रहे सेब, नाशपाती और मेरीगोल्ड फ्लावर के बीजों में पेस्ट्स मिल रहे है जिसके कारण इनके इम्पोर्ट्स हमने पूरी तरह से रोक दिए है अब इनके ये सामान भारत में नही आयेंगे | अब आपको ये जानकर हैरानी होगी कि भारत ने पिछले साल के मुकाबले इस साल सेब और नाशपाती में 200 फीसदी का उछाल दर्ज किया है पिछले साल सामान्यतः इसकी अवधि 4.42 करोड़ डालर था जो कि इस साल बढ़कर 13.2 करोड़ डालर पर पहुच गया है, और ऐसे में चीन से ये आयात रोकने पर चीन को बड़ा झटका लगेगा इसमें कोई गुंजाईश नहीं है |

चीन को भेजे गए कई पत्रों में भारतीय अधिकारियों ने नियमों के पालन और फायटोसैनिटरी नार्म्स का उलंघन का जिक्र किया, जिनसे Indian Agriculture को गंभीर रूप से बायोसेक्युरिटी रिस्क हो सकता है और ऐसे में चीन से सामान लेना मतलब भारत के लिए पूरी तरह हानिकारक साबित होगा |

लेकिन जब यह बात हमने चीन से पूछा कि ऐसे हानिकारक कीटाणु इन उताप्दो में कहा से आये तो चीन ने अपने सफाई में कहा कि ये शायद पैकेजिंग और सर्कुलेसन कि प्रकिया के दौरान आये होंगे और यही नही चीन को इन सब समस्याओं के बारे में बताये जाने के बावजूद भी इनमें को सुधार नही आया लेकिन  भारत ने अब इन तीनों कमोडिटीज़ को लेकर और भी जानकारी मांगी है |