पति पत्नी के इस दिन सम्बन्ध बनाने से बच्चा किन्नर पैदा होता है देखे विडिओ ?

0
237

दुनिया में नर और नारी के अलावा एक एनी वर्ग भी है जो न तो पूरी तरह पुरुष है और न ही महिला और इसे लोग हिजड़ा या किन्नर के नाम से जानते है या फिर ट्रांसजेंडर के नाम से भी संबोधित करते है जी हा किन्नर इसके बारें में लोग हमेशा से जानने कि कोशिश करते आये है और इसके बारें में जानकारी ज्यादा से ज्यादा लोग जानने कि उत्सुकता रहती है लेकिन कई लोगो के दिमाग में होगा कि आखिर किन्नर कैसे पैदा होते है किस गलती के कारण ये किन्नर का रूप लेते है ?

शायद ही कुछ लोगो को पता होगा कि किन्नरों का जननांग जन्म से लेकर म्रत्यु तक एक जैसा ही रहता है या फिर यह कह सकते है कि इनके जननांग कभी विकसित ही नही होते | और किन्नरों के अन्दर स्त्री और पुरुष दोनों के गुण पाए जाते है |

इनका रहन सहन पहनावा और काम धंधा इन यह सभी चीज लोगो से बहुत ही अलग होता है और आज से नही सदियों से किन्नरों के जन्म कि परम्परा चलती आ रही है लेकिन आज तक यह नही पता चल सका कि इनका जन्म होता कैसे है ज्योतिष शाष्त्र अरु पुराणों की माने तो उनमे कई प्रकार से उल्लेख किया गया है |

ज्योतिष की माने तो बच्चे के जन्म के वक्त उनकी कुंडली के अनुसार अगर आठवें घर में शुक्र और शनि विराजमान हो और उन्हें गुरु और चन्द्र नही देखता है तो वह व्यक्ति नपुंसक हो जाता है या फिर उसका जन्म किन्नरों में होता है क्योकिं कुंडली के अनुसार शुक्र और शनि के आठवें घर में विराजमान होने से सम्बन्ध बनाने कि क्षमता कम हो जाती है और अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए विडिओ को देखें ?

देखें विडिओ:-